Swashthik Plascon IPO Listing: बॉटल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी की धांसू इंट्री 40 फीसदि प्रीमियम पर एंट्री के बाद शेयर पर लगा अपर सर्किट

Swashthik Plascon IPO Listing- आज स्वास्तिक प्लासकॉन कंपनी जो की एक बॉटल्स मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। स्वास्तिक प्लासकॉन के शेयरों की लिस्टिंग आज घरेलू बाजार बीएनएसई (BNSE) के एसएमई (SME) प्लेटफार्म पर एंट्री हुई है। कंपनी का आईपीओ पिछले महीने 24-29 नवंबर तक के लिए ओपन हुआ था। पहले दिन कंपनी के आईपीओ को निवेशकों के द्वारा कोई खास रिस्पांस नहीं मिला था। लेकिन उस के बाद निवेशकों ने आईपीओ में दिलचस्पी दिखाई और कंपनी का आईपीओ ओवरऑल 15 गुना तक सब्सक्राइब हो गया।

Join Telegram Group

स्वास्तिक प्लासकॉन के आईपीओ में दाव लगाने वाले निवेशकों के लिए आज का दिन बहुत ही शानदार है। कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग अपने आईपीओ के अपर प्राइस बैंड 86 रुपये से 34.1 रुपये अधिक यानी की 120.10 रुपये में हुई। कंपनी की लिस्टिंग में ही निवेशकों को 39.65 फीसदि का फायदा हुआ। कंपनी का शेयर यही नहीं रुका कंपनी का शेयर उछलकर कर अपने अपर सर्किट 126.10 रुपये में पहुंच गया। यानी की आईपीओ निवेशकों को पहले दिन ही 46.63 फीसदि का मुनाफा हो गया।

स्वास्तिक प्लासकॉन आईपीओ डिटेल्स (Swashthik Plascon IPO डिटेल्स)

कंपनी का आईपीओ 24-29 नवंबर तक ओपन रहा। इस बीच कंपनी के आईपीओ में सब से अधिक दाव नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) निवेशकों ने 35.76 फिर रिटेल निवेशकों ने 13.58 और 3.42 गुना क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) द्वारा आईपीओ सब्सक्राइब हुआ। कंपनी ने 10 रुपये फेस वैल्यू शेयर का प्राइस बैंड 80-86 रुपये रखा था। कंपनी ने इस आईपीओ में 40.76 करोड़ रुपये के 47,39,200 फ्रेश इक्विटी शेयरों को सेल किया।

स्वास्तिक प्लासकॉन कहाँ करेगी फंड का इस्तेमाल

स्वास्तिक प्लासकॉन आईपीओ से जुटाये गये फंड का इस्तेमाल नया मैन्यूफैक्चरिंग प्लांट बनाने में और सोलर प्लांट और मशीनरी लगाने, मौजूदा प्लांट के लिए मशीनरी की खरीदारी, वर्किंग कैपिटल की जरूरतों को पूरा करने में और सामान्य कॉरपोरेट के उद्देश्यों को पूरा करने में लिया जाएगा।

यह भी पढ़े- रक्षा मंत्रालय से 2,956 करोड़ रुपये का कम मिलने से कंपनी के शेयर में दिखी लगता तार तेजी कौन सी है कंपनी जाने?

स्वास्तिक प्लासकॉन (Swashthik Plascon) के बारे में

स्वास्तिक प्लासकॉन PET बॉटल्स और PET प्रीफॉर्म्स बनती है। PET प्रीफॉर्म्स का इस्तेमाल सॉफ्ट ड्रिंक जूस बॉटल्स और पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर बॉटल्स में होता है। PET बॉटल्स का इस्तेमाल लिक्कर,फार्मा,FMCG पैकेजिंग और बर्तन धोने के साबुन इत्यादि में होता है। कंपनी के रेवेन्यू की बात करे तो यह लगातार मजबूत हो रही है। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी का रेवेन्यू 35.33 करोड़ रुपये था। जो की वित्त वर्ष 2022 में 14.54 करोड़ रुपये के मुनाफे के साथ 49.87 करोड़ रुपये हो गया। और वित्त वर्ष 2023 में 45.89 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी का शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2021 में 6.91 लाख रुपये वित्त वर्ष 2022 में 13.01 लाख और वित्त वर्ष 2023 में बढ़कर 3.02 करोड़ रुपये पहुंच गया।

डिस्क्लेमर- यह आर्टिकल एक जानकारी के आधार से लिखा गया है। हमारा उद्देश्य है केवल जानकारी देना है। हम किसी भी शेयर,म्यूच्यूअल फंड इत्यादि में निवेश की सलाह नहीं देते है। शेयर बाजार जोखिमों के अधीन हैं निवेश करने से पहले अपने फाइनेंशियल एडवाइजर की राय जरुर ले।

Leave a comment